Compound exercise kya hai in hindi

बहुत सारे लोगों को जिम के कुछ बेसिक्स एक्सरसाइजेज और टर्म नहीं पता होते जिसकी वजह से उन्हें बहुत सारी चीजें समझ नहीं आती। जिम के कुछ बेसिक्स बेहद ज्यादा जरूरी होते हैं जिन्हें जानने के बाद आपको एक बेहतर बॉडी बनाने में बहुत सहायता मिलती है।

इन्हीं कुछ बेसिक्स में से एक है कंपाउंड मूवमेंट या कंपाउंड एक्सरसाइज। कंपाउंड मूवमेंट एक ऐसा शब्द है जो आपको बहुत बार सुनने को मिलेगा। यह बहुत ही ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है जो अधिकतर सारे अच्छे एथलीट्स या ट्रेनर आपको मसल्स बढ़ाने या फैट घटाने की इंफॉर्मेशन में इस्तेमाल करते हैं। तो आज मैं आपको बताता हूं कि कंपाउंड होती क्या है, दरअसल दोस्तों कंपाउंड मूवमेंट या एक्सरसाइज वह होती हैं जिनमें आपके शरीर के कम से कम दो या दो से अधिक मसल्स और जॉइंट एक ही समय में कार्य कर रहे होते हैं।

अगर इसे साधारण भाषा में बताएं तो जब आप कोई भी एक्सरसाइज करते हैं तब अगर आपके दोनों बाजू और अन्य कोई मसल काम कर रहा है तो इसका सीधा अर्थ होता है कि आपको ही कंपाउंड एक्सरसाइज कर रहे हैं।

इसका सीधा उदाहरण है बेंच प्रेस, बेंच प्रेस एक कंपाउंड एक्सरसाइजेज है क्योंकि इसे करते वक्त आपके शरीर के बहुत सारे मसल्स और हिस्से काम कर रहे होते हैं। पहला हिस्सा होता है आपकी चेस्ट जो प्राइमरी मसल होती है बेंच प्रेस करते वक्त दूसरा हिस्सा आपका जो काम करता है वह होता है आपका ट्राइसेप्स और सोल्डर।

यह दोनों सेकेंडरी मसल्स होते हैं जो बेंच प्रेस करने में आपकी सहायता करते हैं। इनके अलावा आपकी पीठ आपकी टांगे और आपकी कमर भी आपकी बेंच प्रेस करने में सहायता करती है लेकिन उनका कार्य बहुत छोटा होता है इसलिए हम उन्हें प्राइमरी और सेकेंडरी में नहीं रखते हैं।

इसी तरह और भी बहुत सारी एक्सरसाइजेज हैं जो एक से अधिक मसल्स पर कार्य करती है और उन्हें पूरा करने में दो से अधिक मसल्स जरूरत होती है। तो यह होता है कंपाउंड मूवमेंट। अब बात करते हैं कंपाउंड मूवमेंट इतनी जरूरी क्यों होती है। आपने काफी बार सुना या पढ़ा होगा कि अधिकतर कंपाउंड करने से आपके मसल्स जल्दी बढ़ते हैं या आपका बॉडी फैट घटता है तो क्या होता है कंपाउंड में ऐसा जिससे ऐसा होता है।

कंपाउंड एक्सरसाइज एक समय में एक से अधिक मसल्स पर काम करती है जिसकी वजह से वह कुछ उन हिस्सों को भी टारगेट करती है जिन्हें आप अपनी रोजाना कसरत के दौरान टारगेट नहीं करते हैं। इसकी वजह से आपके वह हिस्से बढ़नी लगते हैं और ताकतवर बनते हैं जिसकी वजह से आप धीरे धीरे और अधिक वजन उठाने लग जाते हैं। और इसकी वजह से आपके शरीर में बहुत बदलाव आता है और आप की ताकत के साथ साथ आपके मसल्स भी बढ़ने लगते हैं।

बहुत सारे रिसर्चरों ने अपने रिसर्च में यह पाया है की अधिक वजन उठाने से हमारे मसल्स तेजी से बढ़ने लगते हैं और इसी वजह से हमारे शरीर से फैट भी घटने लगता है। कंपाउंड मूवमेंट के और भी बहुत सारे फायदे हैं जैसे वह हमारे शरीर में ग्रोथ हार्मोन और टेस्टोस्टेरोन के निर्माण को भी बढ़ावा देता है। और यह दोनों हारमोंस जब सही मात्रा में हमारे शरीर में निर्मित होते हैं तो हमारा शरीर अधिक मसल्स बनाने लगता है इन दोनों की खास बात यह है कि इनकी मात्रा सही होने से आपके शरीर फालतू का फैट घटने लग जाता है।

साथ ही कंपाउंड एक्सरसाइज आपके मसल्स को ताकतवर बनाती हैं जिसकी वजह से अब अन्य कस एक्साइज में भी अधिक वजन बेहतर तरीके से उठा पाते हैं जिसकी वजह से आपके वह मसल्स अच्छे से बनने लगते हैं और वहां जमा हुआ फैट धीरे-धीरे घटने लगता है।

यह कुछ फायदे हैं जो कंपाउंड एक्सरसाइजेज आपको पहुंचाती हैं लेकिन बहुत सारे लोग कंपाउंड एक्सरसाइज नहीं करते हैं जिसकी वजह से वह एक बेहतरीन बॉडी बनाने से चूक जाते हैं, हालांकि सिर्फ कंपाउंड एक्साइज ही नहीं एक तरीका नहीं है एक अच्छी बॉडी बनाने का परंतु यह एक सरल और अच्छा मेथड है। तो आप भी कंपाउंड एक्सरसाइज को अपने वर्कआउट में करें और अपना अनुभव हमारे साथ कमेंट सेक्शन के जरिए शेयर करें

Recommended By Us:

Strauss Dual Shaker
Extreme Plus 1.5L Gallon

%d bloggers like this: